कोविड-19 : अहमदाबाद में कर्फ्यू, सीमाएं सील

1
182
अहमदाबाद में कर्फ्यू, सीमाएं सील
-राजकोट, वडोदरा और सूरत में भी आज से रात्रि कर्फ्यू लगा
-केवल जीजे-01 और जीजे-27 पासिंग में प्रवेश
-शहर में बाहर निकलने वालों के खिलाफ पुलिस की दंडात्मक कार्रवाई
 
हर्ष/पारस
अहमदाबाद, 21 नवम्बर। कोरोना मामलों में वृद्धि के कारण दिवाली के बाद अहमदाबाद की सीमाओं को सील कर शुक्रवार रात से दो दिवसीय कर्फ्यू लगा दिया गया है यानि अहमदाबाद में 57 घंटे का कर्फ्यू शुरू हो गया है। आज कर्फ्यू के कारण सड़कें सूनी हैं। बड़ौदा एक्सप्रेस-वे एकल वाहन के प्रभाव को देख रहा है। इसके अलावा, शहर में प्रवेश करने वाले वाहनों का परीक्षण किया जा रहा है। अहमदाबाद के अलावा राजकोट, वडोदरा और सूरत में भी आज से रात्रि कर्फ्यू लगा दिया गया है।
अहमदाबाद में शुक्रवार को रात 9 बजे से शुरू हुआ कर्फ्यू सोमवार को सुबह 6 बजे तक चलेगा। शनिवार को कर्फ्यू की पहली सुबह शहर की सड़कें सूनसान थीं। मंदिरों पर भी ताला लगा दिया गया है। शहर की सड़कों पर लोगों या वाहनों की आवाजाही नाममात्र की थी, जबकि पुलिस को संवेदनशील इलाकों में गश्त और कर्फ्यू लागू करते देखी गयी। पुलिस ने कर्फ्यू तोड़ने वालों के खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई की है। शहर के एसजी हाईवे, आश्रम रोड, लाल दरवाजा, कालूपुर, बापूनगर, नरोदा, सरखेज, रिंग रोड, नेशनल हाईवे कनेक्टेड रोड, शाहपुर, असरवा, साबरमती, चंदखेड़ा में पुलिस पूरी तरह से मुस्तैद है।
अहमदाबाद शहर में क्राइम ब्रांच, एसओजी, सभी डीसीपी-एसीपी, पीआई सहित अधिकारी-कर्मचारियों के साथ लगातार शहर में गश्त कर रहे हैं और कर्फ्यू को सख्ती से लागू कर रहे हैं। पुलिस स्थानीय इलाके में गश्त कर रही है और लोगों को घर भेजा जा रहा है। इसके अलावा शहर के सभी प्रवेश स्थानों पर पुलिस जांच कर रही है। बाहर से आने वाले वाहनों की जांच कर अंदर जाने दिया जा रहा है।
आवश्यक वस्तुएं जैसे दूध, दवा की दुकान, नगरपालिका सेवा, पेट्रोल और गैस स्टेशन, फार्मा कंपनियों, बिजली और पानी के आपूर्तिकर्ताओं और इससे जुड़े लोगों को निर्धारित आईडी कार्ड या दस्तावेज दिखाकर जाने की अनुमति है।
शहर के निवासी और जीजे -01,जीजे -27 पास करने वाले वाहनों को ही प्रवेश दिया जा रहा है जिसके कारण शहर में आने वाले अन्य जिलों से आने वाले यात्रियों को परेशानी हो रही है।
रेलवे स्टेशन पर यात्रियों की भीड़ देखी गई। अहमदाबाद रेलवे स्टेशन के बाहर हजारों यात्री हैं। रेलवे यात्रियों के लिए एएमटीएस बस की सुविधा शुरू हो गई है। लोगों को उनके घरों तक ले जाने के लिए 150 एएमटीएस बसें शुरू की गई हैं जिसमें सामाजिक दूरी की कमी दिखाई दी।

1 टिप्पणी

कोई जवाब दें