हरिद्वार की लिंक इंटरप्राइजेज कंपनी ने नहीं किया ठेकेदारों का भुगतान

0
186
हरिद्वार की लिंक इंटरप्राइजेज कंपनी ने नहीं किया ठेकेदारों का भुगतान
*  उत्तरकाशी के धौंतरी – ठांडी मोटर मार्ग पर ठेकेदार से काम करवाकर पूरा पैसा हड़प करके ठेकेदार को नहीं किया कोई भुगतान 
* कंपनी के डायरेक्टर अनिल जेटली का कहना है की उनको उक्त काम का विभाग से भुगतान नहीं हुआ जबकि विभाग ने लिखित में जानकारी दी की इस कार्य का पूरा भुगतान किया जा चूका है 
* अभी कंपनी द्वारा भानीवाला देहरादून और उत्तरकाशी रोड पर निर्माण कार्य हो रहा है
रजनी पंवार , नमस्कार दुनिया।
हरिद्वार की लिंक इंटरप्राइजेज कंपनी ने दो साल से ठेकेदारों का भुगतान नहीं किया है। आपको  बता दे की हरिद्वार की लिंक इंटरप्राइजेज रेलवे रोड ज्वालापुर नामक कंपनी के साथ ठेकेदार रविन्द्र सिंह नेगी ने पेटी कॉन्टैक्टर के रूप में उत्तरकाशी के धौंतरी – ठांडी मोटर मार्ग पर लगभग 1 करोड़ का सड़क निर्माण का कार्य किया था, जोकि सड़क निर्माण का कार्य 2017 -18 में पूरा हो गया था, जिसमें कंपनी ने उक्त ठेकेदार का छियालीस लाख चौंसठ हजार सेतालीस रुपए (4664047) का भुगतान करना बाकी है। जिसका दो साल से अधिक का समय हो गया परन्तु कंपनी द्वारा अभी तक भुगतान नहीं किया है, कंपनी के डायरेक्टर अनिल जेटली जी से जब भी भुगतान के लिए कहते है तो जेटली जी द्वारा हर बार विभाग से भुगतान ना होने का बहाना बनाया जाता है। जब इस संबंध में उक्त ठेकेदार ने मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत की जीरो टॉलरेंस सरकार की सीएम हेल्पलाइन 1905 पर इस प्रकरण की शिकायत की तो विभाग के “कार्यालय अधिशासी अभियंता निर्माण खंड ( ए०डी० बी० ) लोक निर्माण विभाग उत्तरकाशी के पत्रांक संख्या 209 दिनांक 24.08.2020 को स्पष्ट लिखा है कि संबंधित फर्म को उनके द्वारा किए गए कार्यों का समस्त भुगतान पूर्व में ही भुगतान किया जा चुका है। साथ ही पत्र में यह भी स्पष्ट लिखा है कि ठेकेदार रविन्द्र सिंह नेगी एवं लिंक इंटरप्राइजेज कंपनी ज्वालापुर, हरिद्वार के मध्य का है, जिस पर भुगतान की कार्यवाही मैं० लिंक इंटरप्राइजेज के द्वारा ही की जानी है। ऐसे में ठेकेदार के लिए मजदूरों का भुगतान का भुगतान करने की समस्या उत्पन्न हो गई है।
उक्त प्रकरण में सरकार द्वारा कठोर कदम उठाने की आवश्यकता है। सिर्फ यह बता कर की सरकार द्वारा उक्त कार्य का भुगतान कमपनी को कर दिया काफी नहीं है यहाँ आवश्यकता है की इस कंपनी के खिलाफ सरकार कठोर कदम उठाकर उसको  राज्य सरकार में कोई भी ठेका लेने के लिए अवैध घोषित करे और इस कंपनी को  दिए गए सारे सरकारी कार्यों के ठेके तत्काल रद्द करके उनका भुगतान रोका जाय। यह कंपनी सरकार से ठेका लेकर सारा कार्य आगे छोटे ठेकेदारों को दे देते हैं और उनसे काम करवाकर भुगतान किये बिना सारा पैसा खुद हज़म कर  जाते हैं और फिर बेधड़क दूसरे ठेके लेकर फिर वही प्रक्रिया दोहराते हैं।  इनपर लगाम लगाने की जरूरत है और सरकार को यह खेल रोकने के लिए जरूरी कदम उठाने ही चाहिए। अभी भी इस कंपनी द्वारा भानीवाला देहरादून और उत्तरकाशी रोड पर निर्माण कार्य हो रहा है जिसका भुगतान रोककर इस कंपनी (  लिंक इंटरप्राइजेज ) को ठेकेदार का भुगतान करने के लिए बाध्य करना चाहिए।

कोई जवाब दें