एक्वेरियम में क्यों होना चाहिए 9 मछलियां ?

0
154

वास्तु से जुड़ी बहुत सी चीजें हैं, जो घर में सुख-शांति व उन्नति का प्रतीक बन चुकी हैं। इसलिए लोग आजकल घर में ऐसी कई चीजें रखते हैं जो वास्तु और फेंगशुई से जुड़ी हैं।

ये चीजें घर में सकारात्मक ऊर्जा को बनाए रखती हैं। फिश एक्वेरियम भी एक ऐसी ही वस्तु है। फेंगशुई की मानें तो मछलियों में ऐसी शक्तियां होती है, जो घर में मौजूद नकारात्मक ऊर्जा को दूर करके सुख समृद्धि लाती है।

कहां रखें एक्वेरियम: फेंगशुई के अनुसार एक्वेरियम को पूर्व, उत्तर या उत्तर-पूर्व मेंरखना चाहिए। इसे शयनकक्ष या रसोईघर में नहीं रखना चाहिए। इन जगहों पर रखने से संपत्ति की हानि होती है। दांपत्य जीवन में आपसी प्रेम बनाए रखने के लिए इसे मुख्य द्वार के बाईं ओर रखें।

एक्वेरियम में एक काले रंग की मछली जरूर हो फेंगशुई के अनुसार एक्वेरियम में मछलियों की संख्या का बड़ा ही महत्व है। एक्वेरियम में कम से कम नौ मछलियां होनी चाहिए। आठ मछलियां लाल या सुनहरे रंग की होनी चाहिए, जबकि एक मछली काले रंग की।

ज्योतिषशास्त्र में ग्रहों की संख्या नौ बताई गई है। यही कारण है कि फेंगशुई में नौ मछलियां एक्वेरियम में रखने की बात कही गई है।

जब कभी कोई मछली मर जाए तो उसे एक्वेरियम से बाहर निकाल दें और उसकी जगह नई मछली लाकर रख दें। ध्यान रखें कि जिस रंग की मछली मरी हो उसी रंग की नई मछली लाएं।

यह आपको संकट से बचाती है। यही कारण है कि वास्तु और फेंगशुई में एक्वेरियम यानी मछली घर रखने की सलाह दी गई है।

कोई जवाब दें